राज्य में बिजली, पानी के बिल माफ किये जाने की मांग दोहराई

न्यूज डेस्क / हरिद्वार। कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के दृष्टिगत पहले से ही चार धाम यात्रा विधिवत रूप से संचालित ना होना और अब कावड़ मेला स्थगित हो जाने से सभी वर्ग के छोटे-बड़े व्यापारी, ट्रांसपोर्टर आर्थिक तंगी व मायूसी का सामना कर रहे। उत्तराखंड ऑल इंडिया उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष संजय चोपड़ा की अगुवाई में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार को पत्र लिखकर पुनः मांग की वर्ष 2020 के सभी छोटे-बड़े सामान्य वर्ग, व्यापारी व ट्रांसपोर्टर के बिजली, पानी के बिलो को माफ किया जाना, निजी व सरकारी शिक्षा संस्थानों द्वारा वर्ष 2020 की फीस माफ किया जाना, ट्रांसपोर्टरों व परिहानों व्यवसायियो का 2 साल का टैक्स माफ किया जाना, अपनी इन 4 सूत्री मांगों को सरकार से गुहार लगाई।

इस अवसर पर ऑल इंडिया उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय चोपड़ा ने कहा कोविड-19 की वजह से पहले ही उत्तराखंड राज्य में चार धाम यात्रा का विधिवत रूप से तीर्थ यात्रियों के लिए संचालन ना होने के कारण सभी छोटे-बड़े व्यापारी, ट्रांसपोर्टर व सामान्य वर्ग आर्थिक तंगी का सामना कर रहे हैं, अब कावड़ मेला स्थगित किये जाने से हर वर्ग में मायूसी व चिंता अपनी जीविका को संचालित किए जाने को लेकर देखी जा सकती है।

ऐसे में राज्य सरकार को बड़े कदम उठाते हुए जनहित में बिजली, पानी के बिल माफ किया जाना, छात्र-छात्राओं की निजी व सरकारी शिक्षा संस्थानों द्वारा फीस माफ किया जाना व अन्य विषयो पर सहानुभूति से विचार करना चाहिए। बिजली, पानी के बिलों व शिक्षा संस्थानों द्वारा फीस माफी की मांग करते व्यापारी नेताओं में संजय बंसल, राजेश खुराना, हंसराज अरोड़ा, दिनेश कोठियाल, अजय कश्यप, राधेश्याम रतूड़ी, कुंवर सिंह मंडवाल, ओमप्रकाश भाटिया, रोहित शेट्टी आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *