कोरोनावायरस / भारत की चीन सरकार से अपील-फंसे 250 छात्रों को लौटने दे, इस शहर में अब तक 46 की मौत

न्यूज डेस्क / बीएसएनके न्यूज। भारत ने चीन सरकार से वुहान में फंसे 250 छात्रों को वापस भेजने की अपील की है। विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि बीजिंग में भारतीय दूतावास लगातार संपर्क में है। हम वहां रहने वाले भारतीयों पर करीब से नजर रख रहे हैं। कोरोनावायरस का केंद्र माने जा रहे वुहान में अब तक 46 लोगों की मौत हो चुकी है। चीन ने कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए वुहान को पूरी तरह लॉकडाउन कर दिया है। 16 अन्य शहरों में भी सार्वजनिक यातायात सेवाएं बंद कर दी गई हैं। यानी यहां से कोई भी व्यक्ति बाहर नहीं जा सकता।

वुहान में लगभग 700 भारतीय छात्र पढ़ते हैं। नए साल की छुट्टियों पर ज्यादातर भारत आ गए थे। 250 छात्र वुहान में ही फंसे रह गए। इन बच्चों के माता-पिता ने कोरोनावायरस के तेजी से फैलने की खबरों के बीच उनके हालात पर चिंता जताई थी। वुहान यूनिवर्सिटी की एक मेडिकल स्टूडेंट के पिता कुमारन जे के मुताबिक, छात्रों का खाने-पीने का सामान खत्म हो रहा है। वहां यातायात के साधनों के साथ दुकानें बंद हैं। लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने को कहा गया है। छात्र जब वुहान से निकलने की कोशिश में थे, तभी ट्रांसपोर्ट सेवाएं बंद कर दी गईं।

भारतीयों की मदद के लिए 3 हेल्पलाइन नंबर जारी

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा है कि बीजिंग में स्थित भारतीय दूतावास सभी नागरिकों की सेहत पर नजर रखे हुए है। उन्होंने हालात की ताजा जानकारी के लिए दूतावास के संपर्क में रहने की सलाह भी दी है। इस बीच बीजिंग में भारतीयों के लिए 3 हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं। इन नंबरों पर 24 घंटे भारतीयों के बारे में जानकारी ली जा सकती है।

हम विदेशी साथियों की हर तरह की मदद को तैयार: चीनी विदेश मंत्रालय
भारतीय दूतावास ने कहा, चीनी अफसरों ने भारतीयों को खाने-पीने के सामान समेत हर तरह के सहयोग का आश्वासन दिया है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि हम अपने विदेशी साथियों और अफसरों की हमेशा मदद करते हैं। हम जो भी सहयोग कर सकेंगे, जरूर करेंगे। हम परिस्थितियों के मुताबिक, यहां रहने वाले विदेशी नागरिकों के अधिकारों और उनकी देखरेख का पूरा जिम्मा उठाएंगे।

चीन में कोरोनावायरस की रोकथाम के इंतजाम पूरे नहीं पड़ रहे हैं। अफसरों ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि देशभर में अब तक 56 की मौत हो चुकी है। इसके अलावा 1975 लोग कोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए हैं। शनिवार को ही हुबेई प्रांत में 13 लोगों की मौत हुई। इससे पहले शुक्रवार को चीन में 16 की मौत हुई थी।

जिनपिंग ने कहा- भयानक समस्या से गुजर रहा चीन
चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने शनिवार को कोरोनावायरस समस्या पर अफसरों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि देश इस वक्त भयानक समस्याओं से गुजर रहा है। वायरस का फैलना और तेज हुआ है। चीन के कई शहरों में लूनर न्यू ईयर की तैयारियां रद्द कर दी गई हैं। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरकार ने 17 शहरों को लॉकडाउन कर दिया है। चीनी अखबार पीपुल्स डेली के मुताबिक, 15 दिन के अंदर एक और इमरजेंसी अस्पताल तैयार किया जाएगा। इससे पहले 1000 बेड के अस्पताल का निर्माण भी शुक्रवार को शुरू हो चुका है। मिलिट्री से जुड़े डॉक्टरों को भी वुहान लाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *