चीन में जन्मे नवजात को 48 घण्टे बाद कोरोनावायरस संक्रमित पाया गया,भारत में भी अलर्ट जारी

न्यूज डेस्क / बीएसएनके न्यूज। कोरोनावायरस से चीन के वुहान शहर में बुधवार को जन्म के 48 घंटे बाद नवजात शिशु को संक्रमित पाया गया। इस वायरस से संक्रमित होने वाला वह सबसे कम उम्र का मरीज है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, नवजात के मां के गर्भ में या पैदा होने के फौरन बाद संक्रमित होने की आशंका है। कारण कि नवजात को जन्म देने से पहले मां की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। इसी बीच, भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि सावधानी के तौर पर देश में 5123 लोगों को घरों में निगरानी में रखा गया है।

वहीं, केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने बताया कि कोरोनावायरस से बचाव के लिए हम धर्मगुरुओं से अनुरोध करेंगे कि वे मंदिर, मस्जिद और चर्च में इससे संबंधित गाइडलाइन की जानकारी दें। उन्होंने बताया कि बुधवार को राज्य में 153 नए मामले सामने आए। इनमें से 16 मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, 223 संदिग्ध मरीजों के सैम्पल पुणे स्थित नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी भेजे गए हैं। राज्य में अब तक केवल तीन मरीज ही पॉजिटिव पाए गए। लेकिन हम फिर भी एहतियात बरत रहे हैं। कोरोनावायरस प्रभावित इलाकों में लौटे 2528 लोगों में से 2345 को उनके घरों में ही निगरानी के लिए रखा गया है, जबकि 93 संदिग्धों अस्पताल में भर्ती हैं।

केरल में अब तक तीन मामलों की पुष्टि हो चुकी है

इससे पहले दिल्ली में कैबिनेट सचिव राजीव गाबा ने समीक्षा बैठक में कहा- केंद्र ने चीन के लिए नई ट्रैवल एडवाइजरी जारी की, जिसमें लोगों को चीन की यात्रा न करने को कहा है। देश में अब तक कोरोनावायरस संक्रमण की जांच के लिए 741 लोगों के टेस्ट किए गए है। इनमें से केरल के तीन मरीज पॉजिटिव पाए गए जबकि शेष 738 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। केरल में अब तक तीन मामलों की पुष्टि हो चुकी है। राज्य में 2,421 लोगों को निगरानी में रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने बताया कि इनमें से 100 लोगों को अलग-अलग अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है।

15 जनवरी के बाद चीन गए व्यक्ति की जरूरत पड़ने पर जांच

समीक्षा बैठक में यह तय किया गया कि जो भी व्यक्ति 15 जनवरी के बाद से अब तक चीन गया है। उसे जरूरत पड़ने पर निगरानी में रखा जा सकता है। बैठक में स्वास्थ्य, विदेश, उड्डयन, हेल्थ रिसर्च, गृह और रक्षा मंत्रालय से जुड़े अफसर मौजूद थे। विदेश मंत्रालय ने चीन में रहने वाले भारतीयों के लिए हॉटलाइन नंबर और ई-मेल जारी किए हैं। जरूरत पड़ने पर कोई भी भारतीय इन नंबरों पर 8618610952903, 8618612083629 फोन करके मदद मांग सकता है। स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या होने पर 24 घंटे चालू रहने वाला हेल्पलाइन नंबर +91-11-23978046 जारी किया गया है। इसके अलावा ई-मेल भी ncov2019@gmail.com दिया गया है।

चीन में मरने वालों का आंकड़ा 500 तक पहुंचा

चीन में अब तक 490 लोगों की जान जा चुकी है। वहीं, हॉन्गकॉन्ग और फिलीपींस में 1-1 युवक की मौत हुई। चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को कोरोनावायरस से संक्रमण के 3,887 नए मामले सामने आए। इनमें 431 व्यक्ति गंभीर रूप से बीमार हैं, जबकि 262 लोगों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। चीन में सोमवार को 1000 बेड का मेकशिफ्ट अस्पताल खोला गया। एक और 1300 बिस्तर वाला अस्पताल गुरुवार तक तैयार हो जाएगा। दोनों को सैन्य चिकित्साकर्मियों द्वारा चलाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *